मक्का के रेट फिरसे तेज़ी में और बढ़ने की सम्भावना।

मक्का के रेट फिरसे तेज़ी में और बढ़ने की सम्भावना।

मक्का के रेट फिरसे तेज़ी में और बढ़ने की सम्भावना

मक्का के रेट फिरसे तेज़ी में और बढ़ने की सम्भावना।

खरीफ की फसल में मक्का का अपना एक अलग महत्वपूर्ण स्थान है। अंतराष्ट्रीय स्तर पर इसकी मांग में वृद्धि के कारण इसकी कीमतों में तेजी आई है। गेहूं, सरसों के बाद अब किसानों को मक्का से भी लाभ होगा। मक्का की घरेलू मांग के साथ ही इसकी वैश्विक मांग में भी इजाफा हुआ है। इसके कारण बाजार में मक्का की कीमतें 2200 से 2600 रुपए प्रति क्विंटल तक हो गईं हैं। अधिकांश मंडियों में इसकी कीमत 2 हजार रुपए प्रति क्विंटल चल रही है। जबकि मक्का का न्यूनतम समर्थन मूल्य 1962 रुपए प्रति क्विंटल है। 

मक्का के भाव बढऩे से वे किसान खुश हैं जिन्होंने मक्का की बुवाई की है। बता दें कि वैसे तो मक्का खरीफ की फसल है, लेकिन जहां सिंचाई के पर्याप्त साधन हैं वहां रबी और खरीफ की अगेती फसल के रूप में इसकी खेती की जा सकती है। (यानि जायद फसल के रूप में भी मक्का की खेती की जा सकती है।)

मक्का के रेट फिरसे तेज़ी में और बढ़ने की सम्भावना।

मक्का की कीमतें बढ़ने का कारण

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार बताया जा रहा है कि चीन, यूरोपीय संघ, यूक्रेन और अमेरिका सहित दुनिया में मक्का का उत्पादन 2.9 फीसदी घटा है। इसी के साथ भारत में भी 2022-23 में इसका उत्पादन घटने का अनुमान है। इससे मक्का भावों में तेजी आई है। बता दें कि पिछले साल मक्का एमएसपी से भी कम दामों में बाजार में बिका था। इसे देखते हुए मक्का उत्पादक किसानों के लिए ये खबर बेहद खास है। किसान बाजार भाव पर मक्का की बिक्री करके अच्छा लाभ कमा सकते हैं।

इस बार भारत में कितना मक्का उत्पादन का है अनुमान

इस बार भारत में वित्तीय वर्ष 2022-23 में मक्का उत्पादन 3.1 फीसदी कम होने का अनुमान लगाया जा रहा है। इसी के साथ अन्य देशों मेंं भी मक्का के उत्पादन में गिरावट आई है। इसे देखते हुए बाजार में इसकी मांग ने जोर पकड़ा और भावों में इजाफा देखा जा रहा है।  

विभिन्न मंडियों के भाव यहाँ दिए हुए है

मक्का के रेट फिरसे तेज़ी में और बढ़ने की सम्भावना।

  • हरियाणा मंडियों में मक्का का भाव 2228 रुपए प्रति क्विंटल चल रह है।
  • राजस्थान की मंडियों में मक्का का भाव 2270 रुपए प्रति क्विंटल तक चल रहा है।
  • उत्तर प्रदेश की मंडियों में मक्का का भाव 2130 रुपए प्रति क्विंटल चल रहा है।
  • मध्यप्रदेश की इंदौर मंडी में मक्का का भाव 2200 रुपए प्रति क्विंटल तक चल रहा है।
  • गुजरात की अमरेली मंडी में मक्का का औसत भाव 2630 रुपए चल रहा है।
  • महाराष्ट्र की जलगांव मंडी में मक्का का औसत भाव 2200 रुपए प्रति क्विंटल रहा।
  • कर्नाटक के दावणगेरे में मक्का का भाव 2298 रुपए प्रति क्विंटल चल रहा।

आगे क्या रहेगा मक्का की कीमतों को लेकर बाजार का रूख

मक्का के रेट फिरसे तेज़ी में और बढ़ने की सम्भावना।

बाजार एक्सपर्ट्स की मानें तो इस बार बाजार में मक्का का भाव न्यूनतम समर्थन मूल्य एमएसपी से ऊंचा बना रहेगा। हालांकि मक्का के बाजार भाव में मामूली घटत-बढ़त चल सकती है लेकिन भाव एमएसपी से ऊपर ही रहेंगे। इससे किसानों को लाभ होगा। बता दें कि मक्का की मांग पोल्ट्री फीड और स्टॉच कंपनियों में अधिक मांग रहती है। आने वाले महीनों में इसकी मांग बढऩे की उम्मीद है। इसलिए भावों में गिरावट की कम ही उम्मीद नजर आती है। 

देश-दुनिया में कितना होता है मक्का का उत्पादन

मक्का के रेट फिरसे तेज़ी में और बढ़ने की सम्भावना।

मक्का के रेट फिरसे तेज़ी में और बढ़ने की सम्भावना।

मक्का के रेट फिरसे तेज़ी में और बढ़ने की सम्भावना।

मक्का की खेती करीब 165 देशों में लगभग 190 मीटर हेक्टेयर पर की जाती है। इस फसल का वैश्विक अनाज उत्पादन में 39 प्रतिशत योगदान है। इसमें करीब 36 प्रतिशत योगदान के साथ संयुक्त राज्य अमेरिका (यू.एस.एस) मक्का का सबसे बड़ा उत्पादक है। भारत में मक्का पूरे साल उत्पादित किया जाता है। मक्का, सीजन में खेती के अंतर्गत 85 प्रतिशत क्षेत्र के साथ एक प्रमुख खरीफ फसल है। भारत में चावल और गेहूं के बाद मक्का तीसरी सबसे महत्वपूर्ण अनाज की फसल है। यह देश में कुल अनाज उत्पादन का लगभग 10 प्रतिशत है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.